परिवर्तन की ओर.......

बदलें खुद को....... और समाज को.......

117 Posts

24194 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1372 postid : 115

ब्लॉगस पढने का सही तरीका.....

Posted On: 21 Aug, 2010 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अक्सर हम अलग अलग साईटस पर ब्लोग्स लिखते और पढ़ते हैं…. लिखना तो कोई तरीके में नहीं बांधा जा सकता क्योंकी सबका अपना अपना लिखने का तरीका है… सबकी एक विशिष्ट शैली हो सकती है…… इस पर किसी भी प्रकार की टिपण्णी नहीं की जानी चाहिए… वो लेखक का नितांत निजी विषय है….
चलिए अब विषय पर आते हैं…. की आखिर किसी ब्लॉग को पढ़ा कैसे जाये…. अक्सर ये देखा गया है की कई पाठक ब्लॉग को पूरा बड़े ध्यान से पढ़ते हैं, और किसी दुसरे ब्लॉग पर चले जाते हैं………..
मैंने अक्सर सभी के ब्लोग्स पढ़ता हूँ……….. और उन्हें पढ़ कर और अपने खुद के ब्लोग्स को देख कर मुझे ये समझ आया की यहाँ कई पाठक ऐसा ही करते हैं की ब्लॉग को पूरा ध्यान देकर पढ़ते हैं. और कई बार उस पर कोई टिपण्णी देते हैं…. और फिर किसी दुसरे ब्लॉग पर पहुच जाते हैं…….
इस सन्दर्भ में मैं सभी पाठकों को मेरी और से कुछ सुझाव है…………… मैं केवल ये स्पष्ट करना चाहता हूँ की आखिर ब्लॉग को कैसे समझें……….

जो लोग ब्लोग्स लिखते हैं शायद वो मेरे इस वक्तव्य से सहमत हों….. की जब कोई ब्लोगर ब्लॉग लिखता है तो वो चाहकर भी अपनी सभी विचार श्रंखलाओं को ब्लॉग में नहीं उतार पता है…… और कई बार उसके शब्द पाठक ऊपर ऊपर से पढ़ ले जाते हैं. और उनके भीतर छिपा गहरा मर्म नहीं समझ पाते हैं…. तो पाठकों का ये तरीका कुछ गलत है………

अगर आप उस ब्लॉग में यदि उस लेखक के भाव को नहीं पढ़ सके तो ये उस लेखक के साथ अन्याय है……….. वो जो सन्देश आपको देना चाहता है…. यदि वो आप तक नहीं पंहुचा तो उसके उस ब्लॉग का कोई लाभ नहीं……
इस लिए मेरा आप सब को सुझाव है की जब भी किसी ब्लॉग को पढ़ें उस पर अच्छी बुरी कैसी भी प्रतिक्रिया जरूर दें….. और फिर बाद में जरूर देखें की आपकी प्रतिक्रिया पर लेखक की क्या राय है…………
और न केवल आप प्रतिक्रिया दें अपितु बाकी लोगों द्वरा दी गयी प्रतिक्रिया और उस पर लेखक का स्पष्टीकरण भी जरूर देखें…… इन प्रतिक्रियाओं और स्पष्टीकरणों से ब्लॉग पूरी तरह से खुल जाता है. सारे सवालों का सटीक उत्तर पाठकों को मिल जाता है. और लेखक भी पूर्व में छुट चुके विचारों को नये रूप में अपनी प्रतिक्रियाओं में प्रस्तुत कर देता है……….

इस लिए मेरी आपको राय है. की हर ब्लॉग पर टिपण्णी दें और जो टिप्पणियां अन्य पाठकों ने दी है उनको भी जरूर पढ़ें ………………..
……………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………..
उम्मीद है इस लेख का लाभ सभी पाठक जरूर उठाएंगे.
शुभकामनाओं के साथ …………………………………..
पियूष कुमार पन्त………………………………………..

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (9 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

340 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Kalea के द्वारा
July 11, 2016

Jeg synes denne murveggen er knt.eaøffl…..mln er vel temmelig sikker pÃ¥ at jeg ikke fÃ¥r med Gubben pÃ¥ det…men nÃ¥ er det mere enn bare mellom skapene som skulle vært gjort hos oss:)Herlige bilder fra søndagen:)Ha en fin mandag, klem fra meg:)

Piyush Pant, Haldwani के द्वारा
January 3, 2011

आपकी इस प्रतिक्रिया के लिए हार्दिक शुक्रिया

aditya के द्वारा
January 2, 2011

पियूष जी, वाकई आप जीनियस हैं. आप ब्लॉग विशेषज्ञ बन चुके हैं. ब्लॉग पढने और समझने का उत्तम तरीका है यह. ………………………….. धन्यवाद. आदित्य http://www.aditya.jagranjunction.com

    Coralie के द्वारा
    July 12, 2016

    Agnete: Gulvet pÃ¥ soverommet er faktisk eikeparkett. Den lille fliken du ser pÃ¥ bildene er et lammeskinn som ligger pÃ¥ gulvet:) Lykke til med Ã¥ finne drt¸vmegulmeÃ!

Abuzar osmani के द्वारा
August 23, 2010

बेहतर तरीका बताया आपने

    Piyush Pant के द्वारा
    August 23, 2010

    प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद………

rakesh के द्वारा
August 22, 2010

बहुत अच्छा तरीका बताया है आपने ब्लॉग को पढने का.. आपकी राय वाकई काबिलेगौर है. शुक्रिया……..

    Piyush Pant के द्वारा
    August 23, 2010

    rakesh ji.. प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद………

anamika के द्वारा
August 22, 2010

मैं आपकी बात से पूरी तरह से सहमत हूँ .पाठको को पोअस्त की विश्लेषण जो उसे समझ आया हो उसे अवश्य व्यक्त करना चाहिए ………….

    Piyush Pant के द्वारा
    August 22, 2010

    अनामिका जी, प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद…………


topic of the week



latest from jagran