परिवर्तन की ओर.......

बदलें खुद को....... और समाज को.......

117 Posts

24194 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1372 postid : 1465

यंगिस्तान अभी व्यस्त है........

Posted On: 31 Jul, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

इन कुछ पंक्तियों को पहले सीधे सीधे लिखना चाह रहा था…… पर
युवा व्यस्त हैं ……. तो इतने लंबे चौड़े पैरा को पढ़ने का समय नहीं निकाल पाते इसलिए इस तरह लिखा है….. लिखने पर नहीं मुद्दों पर बात की जाए तो सही………….

.
.

एक बूढ़ा लौ लिए अथक खड़ा है….
रास्ता दिखाने को…..
उस यांगिस्तान को …..
जहां का युवा व्यस्त है …..

व्यस्त है….

.

कहीं बाइक से दूरियाँ नापने में…..
कहीं कोशिश सिगरेट के घुवें से छल्ले बनाने मे…..
कहीं शराब और मुर्गे की दावतें उड़ाने मे…
और वो बूढ़ा भूखा लगा है इनका हक दिलाने में …..

.

ये व्यस्त हैं……
मल्टीप्लैक्स मे एक फिल्म देखने मे…..
जिसमे नायक लगा पड़ा है देश को उन्नत बनाने में ….
और ये व्यस्त हैं उसकी आवाज़ से आवाज़ मिलने में…..
पर वास्तविक जीवन मे वही लड़ाई लड़ता एक बूढ़ा इन्हे नज़र नहीं आता है…….

.

क्योंकि यांगिस्तान व्यस्त है
वो व्यस्त है पिज्जा, बर्गर पचाने मे…..
वो व्यस्त है देश के सम्मान की जंग देखने में……
ये सम्मान मिलना है क्रिकेट के मैच मे लंका से जीत मे….

.

यंगिस्तान व्यस्त है….
वो व्यस्त है रेव पार्टी मे डिस्को मे या हुक्का बार जाने मे….
वो व्यस्त है रूठी हुई प्रेमिका को मनाने में………
ये व्यस्त है क्योंकि आज सन्नी लियोन मुंबई मे पहुंची है….
और इसके इंतज़ार मे मुंबई खड़ी है……
क्योंकि इस महानायिका ने देश की संस्कृति बदलनी है…

.

ये है यंगिस्तान मेरी जान……
यंगिस्तान जहां एक बूढ़ा देश को दिशा दिखाने के लिए भूखा बैठा है….
जहां कहते है 70 परसेंट आबादी युवा है….
पर जहां का युवा व्यस्त है …..

.

शायद मेरा ये देश तब तरक्की कर जाएगा…….
जब इस देश का सारा युवा बूढ़ा हो जाएगा……….

Piyush Kumar Pant:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

15 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Makaela के द्वारा
July 12, 2016

You really found a way to make this whole prcsoes easier.

PRADEEP KUSHWAHA के द्वारा
August 14, 2012

शायद मेरा ये देश तब तरक्की कर जाएगा……. जब इस देश का सारा युवा बूढ़ा हो जाएगा………. बहुत खूब, आदरणीय पन्त जी, सादर

akraktale के द्वारा
August 3, 2012

पन्त जी नमस्कार, कहीं बाइक से दूरियाँ नापने में….. कहीं कोशिश सिगरेट के घुवें से छल्ले बनाने मे….. कहीं शराब और मुर्गे की दावतें उड़ाने मे… और वो बूढ़ा भूखा लगा है इनका हक दिलाने में ….. बिलकुल सही विश्लेषण किया है आपने और लो चलो वह बूढा भी थक हार कर उठ कर चल ही दिया है. सुन्दर रचना.बधाई.

    Keischa के द्वारा
    July 12, 2016

    HAH! Be carefull! Only spend what you can afford. Make a monthly budget and stick to it LIKE GLUE. It do1s&n#82e7;t matter how much it is. $50 or $5000. Most of these perfumes will be hereon a month you can afford them,Thanks for the compliment though.Portia xx

yogi sarswat के द्वारा
August 3, 2012

ये है यंगिस्तान मेरी जान…… यंगिस्तान जहां एक बूढ़ा देश को दिशा दिखाने के लिए भूखा बैठा है…. जहां कहते है 70 परसेंट आबादी युवा है…. पर जहां का युवा व्यस्त है ….. पन्त साब आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूँ किन्तु स्पष्ट कहूँ तो मुझे नही लगता की इस देश का युवा इतना भटका हुआ है या इतना व्यस्त है जैसा आपने लिखा है ! भारतीय युवा अगर मल्टीप्लेक्स में कटरीना का डांस देखने जाता है तो वाही इंडिया गेट पर जाकर वन्दे मातरम भी चिल्लाता है ! अगर आप अन्ना के आन्दोलन में जंतर मंतर या इंडिया गेट पर उपस्थित रहे हों तो आप जान गए होंगे की इस युवा से देश उम्मीद कर सकता है !

Ramesh Bajpai के द्वारा
August 2, 2012

और वो बूढ़ा भूखा लगा है इनका हक दिलाने में ….. प्रिय श्री पियूष जी यथार्थ को रेखांकित करती पोस्ट की बधाई | बहुत दिन बाद कमेन्ट का मौका दिया आपने | मिल कर बहुत अच्छा लगा | शुभकामनाओ सहित

Acharya Vijay Gunjan के द्वारा
August 2, 2012

पन्त जी , सप्रेम! नमस्कार !….वर्तमान परिप्रेक्ष्य में अपेक्षित प्रस्तुति ! अति सुन्दर ! बधाई ! पुनश्च !!

shashibhushan1959 के द्वारा
August 2, 2012

आदरणीय पियूष जी, सादर ! व्यंग्यात्मक लहजे में आपने बहुत सटीक बात कही है ! इस समय आन्दोलन को युवा वर्ग की सख्त आवश्यकता है ! अगर युवा वर्ग सड़कों पर उतरे तो दो दिन में निर्णय हो जाय ! समयानुकूल आह्वान ! सादर !

jlsingh के द्वारा
August 2, 2012

ये है यंगिस्तान मेरी जान…… यंगिस्तान जहां एक बूढ़ा देश को दिशा दिखाने के लिए भूखा बैठा है…. जहां कहते है 70 परसेंट आबादी युवा है…. पर जहां का युवा व्यस्त है ….. इसीलिये टीम अन्ना पस्त है और सरकार, राजनीतिक पार्टियाँ भी मस्त है क्योंकि यंगिस्तान ब्यस्त है! पीयूष जी, सादर अभिवादन! आज हम भी बहुत ब्यस्त हैं हमारी ‘दीपिका कुमारी’ की आँखों में आंसू है. यह ‘ग्रेट ब्रिटेन’ आज भी धाँसू है ओलिम्पिक में आज भी चीन और अमेरिका आगे हैं. हम क्रिकेट के दीवाने और अभागे हैं!

manoranjanthakur के द्वारा
August 1, 2012

इस बर्ग को मार्गदर्शन की जिस हद तक जरुरत है लेख उसी यथार्थ पर खरा है बधाई

nishamittal के द्वारा
August 1, 2012

पीयूष जी,बहुत दिन बाद आपकी रचना पढने को मिली वास्तव में युवा पीढी आज मार्ग से भटक गयी है यही देश के भविष्य के लिए दुखद है , युवा पीढी जिस पर देश का भविष्य निर्भर है उपरोक्त गतिविधियों या धनार्जन के अतिरिक्त कुछ नहीं सोच पाता,न चाहता है.

nishamittal के द्वारा
August 1, 2012

पीयूष जी,बहुत दिन बाद आपकी रचना पढने को मिली वास्तव में युवा पीढी आज मार्ग से भटक गयी है यही देश के भविष्य के लिए दुखद है

    Lesa के द्वारा
    July 12, 2016

    egan di&&gbsp;:>tgt;&nt;Pulse Audio remplace Sound JuicerExcuse-moi mais ou est-ce que tu a vu que Pulse Audio remplaçait Sound Juicer ?Pour moi Pulse Audio est un serveur de son alors que Sound Juicer est un rippeur de CD.

dineshaastik के द्वारा
August 1, 2012

पियूष जी सादर नमस्कार। जनजागृति एवं  देशभक्ति की भावना से लवलेश प्रस्तुति के लिये बाधाई के साथ साथ आभार भी….. कृपया इसे भी पढ़े- http://drbhupendra.jagranjunction.com/2012/08/01/%E0%A4%8F%E0%A4%95-%E0%A4%A6%E0%A5%81%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%9F-%E0%A4%AE%E0%A5%81%E0%A4%B2%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%AC%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%89%E0%A4%97-%E0%A4%AA/

R K KHURANA के द्वारा
July 31, 2012

प्रिय पियूष जी, बहुत दिनों के बाद आपकी रचना पढने को मिली ! आज की युवा पीढ़ी का सुंदर विश्लेक्षण किया है आपने ! बहुत ही सुंदर ! मेरी बधाई ! राम कृष्ण खुराना


topic of the week



latest from jagran